श्रवणबेलगोला का इतिहास

भारत के सात भारत के सात आश्चर्यों में शामिल श्रवणबेलगोला। ज्ञात हो कि भारत के 7 महान आश्चर्य निम्न हैं- श्रवणबेलगोला (कर्नाटक, गोमतेश्वर), हरमंदिर साहिब (पंजाब-अमृतसर, स्वर्ण मंदिर), ताजमहल (आगरा), हाम्पी (उत्तरी कर्नाटक), कोणार्क (उड़ीसा), नालंदा (बिहार), खजुराहो (एमपी)। श्रवणबेलगोला प्राचीन तीर्थस्थल कर्नाटक राज्य के हासन जिले में स्थित है। यह भारतीय राज्य कर्नाटक के […]

Continue Reading

चातुर्मास : जिनागम पंथ का अनुपम उपहार

जिनागम पंथ प्रवर्तक भावलिंगी संत श्रमणाचार्य विमर्शसागर मुनि अहा! चक्रवर्ती भरत के भारतदेश की पवित्र भूमि पर विचरण करते परम वीतरागी दिगम्बर श्रमण-श्रमणियों, उत्कृष्ट श्रावक-श्राविकाओं, अरिहंत कथित जिनागम पंथ में दृढ़ श्रद्धा रखने वाले जिनोपासक – श्रमणोपासकों एवं सद् गृहस्थों के द्वारा परम अहिंसा धर्म का शंखनाद सदा से होता आ रहा है। सभी ‘‘परस्परोग्रहो […]

Continue Reading

गुवाहटी में जैन तीर्थ सूर्य पहाड़ की तलहटी में स्थित गौशाला

गुवाहटी में जैन तीर्थ सूर्य पहाड़ की तलहटी में स्थित गौशाला..जिसमें 1500 बीमार व घायल गाय बैल हैं जिन्हें गौ तस्करों द्वारा पकड़ कर लकड़ी के लट्ठों से बाधँकर समुद्र में बंगला देश की सीमा में कटने के लिए छोड़ दिया जाता है,जब गुवाहटी जैन समाज को पता लगा तो उन्होनें BSF की मदद से […]

Continue Reading